*संत रविदास ने मानव जाति के पथ प्रदर्शक*:- *नगराधीश नसीब कुमार*

फरीदाबाद,16 फरवरी।नगराधीश नसीब कुमार ने संत शिरोमणि गुरु रविदास की जयंती के अवसर पर जिला स्तरीय समारोह में बतौर मुख्य अतिथि के रूप में एनआईटी पांच मे भगवान बाल्मीकि मन्दिर परिसर में शिरकत की। जिला कल्याण विभाग और प्रशासन द्वारा आयोजित जिला स्तरीय संत शिरोमणि गुरू रविदास की 645वें प्रकाशोत्सव पर जयंती समारोह का आयोजन किया गया।उन्होंने ग्रामीणों को संत रविदास की जीवनी के बारे में विस्तार पूर्वक बताया। सीटीएम नसीब कुमार ने कहा कि संत रविदास जी का जन्म माघ पूर्णिमा के दिन 1376 ईस्वी को उत्तर प्रदेश के वाराणसी शहर के गोवर्धन गांव में रविवार के दिन हुआ था। इसलिए उनके माता-पिता ने उनका नाम रविदास रखा। उन्हें पंजाब सुबे में रविदास उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और राजस्थान में रैहदास, गुजरात व महाराष्ट्र के लोग रोहिदास और बंगाल के लोग यूंही दास के नाम से याद करते हुए उनकी जयंती पूरे देश में हर्षोल्लास से मनाते हैं। उन्होंने कहा कि संत शिरोमणि का जन्म ऐसे समय में हुआ था। जब उत्तर भारत में मुगलों का शासन था। चारों और अत्याचार, गरीबी, भ्रष्टाचार तथा अशिक्षा का बोलबाला था।  संत रविदास जी ने मानव जाति को जगाने का काम किया। संत रविदास कहते थे कि मन चंगा तो कठौती में गंगा।भला किसी का कर ना सको तो बुरा किसी का मत करना। नगराधीश ने गुरु संत रविदास जी की मूर्ति पर फूल माला  पहना कर पुष्प अर्पित किए। उन्होंने लोगों से अपील की है कि वे अपने मन को संत महात्माओं के द्वारा दिखाए गए मार्ग पर चलकर और अपने शरीर तथा घरों के आगे से सफाई रखने का कार्य जरूर करें। उन्होंने कहा कि स्वच्छ भारत स्वच्छ ग्रामीण अभियान का शुभारंभ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 2 अक्टूबर 2014 को अभियान चलाया था। जिसका असर आज समाज में देखने को मिल रहा है। उन्होंने गुरु रविदास जयंती बारे प्रकाश डालते हुए कहा कि गुरु संत रविदास जी ने स लिखा था कि *रैदास जन्म के कारने होत ना कोई नीच नर को नीच कर डाली है अच्छे कर्म की नीच* यानी व्यक्ति कर्म से नीच होता है। जो व्यक्ति गलत काम करता है वह नीच होता है। जन्म से कोई भी व्यक्ति नीच नहीं होता है। ऐसे संत शिरोमणि की जयंती के उपलक्ष्य पर नगराधीश को आधस मन्दिर कमेटी आधस भारत के पदाधिकारियों ने पुष्प गुच्छ और संत शिरोमणि गुरु रविदास जी मूर्ति भेंट कर सम्मानित किया। संत शिरोमणि जयंती समारोह को मन्दिर कमेटी के पदाधिकारी विनोद कुमार,हरबंस कौर, राजेन्द्र प्रसाद, अधिवक्ता ज्योति ने भी सम्बोधित किया।मंच संचालन लीडर धर्मबीर चौहान ने किया। जयंती समारोह का शुभारंभ संत शिरोमणि गुरु रविदास जी के चित्र पर दीप प्रज्वलित कर पुष्प अर्पित करके किया।इस अवसर पर जिला कल्याण अधिकारी अमरनाथ वर्मा, नायब तहसीलदार बड़खल सुरेश कौशिक, प्रवीण शर्मा आधस मन्दिर कमेटी के चैयरमैन कुंवरपाल आदिवासी, प्रधान राजेन्द्र चाण्डाल, कोषाध्यक्ष सुभाष द्रविड़, महासचिव विनोद दानव, ब्रह्म सिंह अछूत सहित अन्य अधिकारी व गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *