बेहतर स्पोर्ट्स फैन कम्युनिटी बनाने के लिए कंटेंट पर ध्यान केंद्रित करेगा रूटर

ग्लोबल हरियाणा न्यूज़ / नई दिल्ली / हरजिन्दर शर्मा : 05 मार्ज, 2020: भारत के सबसे बड़े स्पोर्ट्स फैन एंगेजमेंट प्लेटफॉर्म और ऑनलाइन स्पोर्ट्स कम्युनिटी रूटर ने लाइव व यूजर जनरेटेड कंटेंट को शामिल करते हुए अपने रूटर एप के बिजनेस मॉडल में बदलाव किया है। भारत के इकलौते यूजर जनरेटेड स्पोर्ट्स कंटेंट प्लेटफॉर्म रूटर के एप लॉन्च से यह उम्मीद की जा रही थी कि ज्यादा से ज्यादा खेल प्रमियों को प्लेटफॉर्म जोड़ने में सहायक होगा। 2016 में लॉन्च के बाद से अब तक रूटर लाइव प्रिडिक्सन गेम, मैच चैट फॉरम, क्विज, ट्रिविया और न्यूज के माध्यम से फैन को आकर्षित करने पर जोर दे रहा था। नए कदम के साथ अब यह 8 क्षेत्रीय भाषाओं में कस्टमाइज्ड स्पोर्ट्स कंटेंट और विस्तृत स्कोरबोर्ड मुहैया कराएगा। अपने नए रूप में यह यूजर को वीडियो और ऑडियो अपलोड करने की अनुमति तो देगा ही साथ में यूजर लाइव मैच के दौरान अपने फॉलोवर के साथ कमेंट और विश्लेषण भी साझा कर सकेंगे।ब्रैंड का मुख्य यूएसपी इसका पर्सनलाइज्ड स्पोर्ट्स कंटेंट और स्पोर्ट्स व गेमिंग के लाखों फैन तक अपनी बात पहुंचाने की सुविधा है। रूटर विभिन्न स्पोर्ट्स में यूजर जनरेटेड लाइव ऑडियो व वीडियो और 8 भारतीय भाषाओं में पर्सनलाइज्ड स्पोर्ट्स न्यूज व स्कोरबोर्ड के माध्यम से फैंस को आकर्षित करता है। इसने अपने प्लेटफॉर्म के 5 करोड़ से ज्यादा यूजर के लिए स्पोर्ट्स संबंधी कंटेंट मुहैया कराते हेतु कई टेक्नोलॉजी कंपनियों के साथ साझेदारी की है। भारत में मोबाइल इंटरनेट यूजर की संख्या 35 करोड़ से ज्यादा हो चुकी है और स्मार्टफोन उपयोग करने वाले 25 करोड़ से ज्यादा लोग गैरअंग्रेजी भाषी हैं। भारत का सोशल मीडिया सेक्टर 2023 तक मौजूदा डिजिटल मार्केटिंग को 30 करोड़ डॉलर से 10 गुना बढ़ोतरी के साथ 3 अरब डॉलर तक पहुचने में मदद करेगा। भारत के मौजूदा स्पोर्ट्स कंटेंट यूजर की संख्या को देखते हुए 2018-19 के 33 करोड़ व्यूअर बढ़कर अगले कुछ वर्षों में 60 करोड़ (जिसमें 65 फीसदी गैरअंग्रजी भाषी होंगे) तक हो जाएंगे। इससे इंडस्ट्री में ऐसे स्पोर्ट्स प्लेटफॉर्म की जरूरत पैदा हुई है, जो यूजर को उनकी पसंद और भाषा के आधार पर कंटेंट उपलब्ध करवा सकें।इस प्लेटफॉर्म पर रोजाना 2 लाख और हर महीने करीब 25 लाख यूजर आते हैं और प्रतिदिन क्रिकेट, फुटबॉल, कबड्‌डी और गेमिंग का कंटेंट देखते हुए औसतन आधा घंटा व्यतीत करते हैं। इसके साथ ही यह यूजर को एप में हाल ही में लॉन्च हुए कमेंट्री विकल्प के साथ लाइव जाकर अपना अनुभव फैंस के साथ साझा करने का अवसर देता है। यह एप सर्वर टु सर्वर, प्लग एंड प्ले का विकल्प भी मुहैया कराता है, जिसके माध्यम से इसके पार्टनर को यूजर तक उनकी पसंद का रियल टाइम स्पोर्ट्स डेटा मुहैया कराने में मदद मिलती है और यह यूजर एक्सपीरियंस को बेहतर बनाता है। चूंकि रूटर एप में 85 फीसदी यूजर जनरेटेड कंटेंट होता है, इसलिए इसमें न सिर्फ अंतरराष्ट्रीय स्पोर्ट्स और घरेलू टूर्नामेंट शामिल होते हैं, बल्कि स्कूल और कॉलेज स्तर के खेलों को भी जगह मिलती है। नए बिजनेस मॉडल से कंपनी को फायदा मिलने की उम्मीद है, क्योंकि यह ऑडियो और वीडियो के माध्यम से फैंटसी प्लेटफॉर्म के यूजर को अपनी ओर आकर्षित करेगा और रोचक कंटेंट का जरिया बनेगा। रूटर भारत में विभिन्न प्रकार के स्पोर्ट़्स को बढ़ावा देने का भी कार्य करेगा। नए लॉन्च पर बात करते हुए रूटर के संस्थापक सीईओ पियूष ने कहा कि “रूटर का मूल उद्देश्य एक ऐसा प्लेटफॉर्म बनाना था, जो फैंस को आपस में जोड़े और एक बेहतर कम्युनिटी बनाए। हम शुरुआत में एक कम्युनिटी बनाने के लिए लाइव स्पोर्ट्स गेमिंग मुहैया करा रहे थे, लेकिन कंटेंट के बढ़ते उपयोग को दखते हुए हमने पाया कि 30 करोड़ से ज्यादा गैरअंग्रजी भाषी यूजर हैं, जो अपनी भाषा में कंटेंट देखना और सुनना पसंद करते हैं और यह एक बेहतर अवसर था। यह काफी प्रोत्साहित करने वाला था और अब हमें उम्मीद है कि 2020 के मध्य तक हम प्रति माह 1 करोड़ यूजर तक पहुंच जाएंगे।”रूटर के बारे में रूटर भारत की सबसे बड़ी ऑनलाइन स्पोर्ट्स कम्युनिटी है, जो पर्सनलाइज्ड स्पोर्ट्स कंटेंट और स्पोर्ट्स व गेमिंग के लाखों फैन तक अपनी बात पहुंचाने की सुविधा देती है। रूटर विभिन्न स्पोर्ट्स में यूजर जनरेटेड लाइव ऑडियो व वीडियो और 8 भारतीय भाषाओं में पर्सनलाइज्ड स्पोर्ट्स न्यूज व स्कोरबोर्ड के माध्यम से फैंस को आकर्षित करता है। क्रिकेट, फुटबॉल और अन्य स्पोर्ट्स के अलावा रूटर गेमिंग फैंस को अपने गेम की लाइव स्ट्रीमिंग करने और अन्य गेमर्स के साथ साझा करने की सुविधा देता है। रूटर की शुरुआत 2016 में पियूष और दीपेष अग्रवाल द्वारा की गई थी। इन्होंने आईईएएडी फंड, वेंचर कैटलिस्ट, एंथिल वेंचर्स, बोमन ईरानी और विभिन्न एंजें ल इंवेस्टर से फंड हासिल किया।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *