भारतीय रिजर्व बैंक वित्तीय साक्षरता जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया

ग्लोबल हरियाणा न्यूज़/फरीदाबाद :7 दिसंबर। स्थानीय पर्यटन स्थल केंद्र मैगपाई में भारतीय रिजर्व बैंक वित्तीय समावेश और विकास विभाग चंडीगढ़ द्वारा वित्तीय साक्षरता जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम की अध्यक्षता आरबीआई की रीजनल डायरेक्टर रचना दीक्षित ने की।
वित्तीय साक्षरता जागरूकता कार्यक्रम को सिडीकेट बैंक के डिप्टी जनरल मैनेजर डीएस बेदी, आरबीआई के दिल्ली के रमेश कुमार अनिल कुमार यादव, सर्व हरियाणा ग्रामीण बैंक के चेयरमैन अरुण कुमार नंदा, एलडीएम ऑलभय मिश्रा तथा आरबीआई के मनु भारद्वाज में भी संबोधित किया।
जागरूकता कार्यक्रम मे उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए श्रीमती रचना दीक्षित ने कहा कि अर्ध शहरी क्षेत्रों के निवासियों में वित्तीय जागरूकता लाने के उद्देश्य से भारतीय रिजर्व बैंक चंडीगढ़ और फरीदाबाद के आग्रीणी बैंक के सहयोग से यह एक दिवसीय वित्तीय साक्षरता जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। इस कार्यक्रम में भारतीय रिजर्व बैंक के विभिन्न अधिकारियों ने भाग लेकर बैंकों के साथ अधिक से अधिक लोगों को जोड़कर उनके रोजगार स्थापित करने तथा वित्तीय लेनदेन के अपने सुझाव साझा किए हैं। इनमें मुख्य रूप से भारतीय रिजर्व बैंक, नाबार्ड, सिडीकेट बैंक तथा सर्व हरियाणा ग्रामीण बैंक के अधिकारी शामिल हो गए हैं।
उन्होंने कहा कि बैंकिंग की तमाम सुविधाओं और फायदों तथा बैंकों से मिलने वाली वित्तीय सेवाओं की जानकारी अधिक से अधिक लोगों को देना ही हमारा उद्देश्य है। भारतीय रिजर्व बैंक ,भारत सरकार बैंकों के साथ मिलकर इस बात के लिए लगातार प्रयासरत है कि देश के पिछड़े ग्रामीण क्षेत्रों को भी बैंकिंग सुविधाएं मुहैया करवाई जाए ताकि उनका सही रूप से आर्थिक विकास हो सके।
भारतीय रिजर्व बैंक के महाप्रबंधक अनिल कुमार यादव ने कहा कि आजकल कई प्रकार की धोखाधड़ी जिनमें ईमेल, मैसेज, पत्र आदि के माध्यम से लाटरी के फर्जी प्रस्ताव और नकली नोटों के प्रचलन, एटीएम कार्ड के गलत उपयोग के प्रति उपस्थित महिला व पुरुषों को उन्होंने इन सब बातों बारे जागरूक किया। साथ ही उन्होंने आम जनता से डिजिटल बैंकिंग से जोड़ने का आह्वान करते हुए कहा कि समय के साथ हमें अपनी पुरानी परंपराओं को छोड़कर उनमें नई परंपराओं का समावेश करना जरूरी है। हमें बैंकिंग में नहीं संकोच डिजिटल बैंकिंग से जुड़ना होगा। डिजिटल बैंक से जुड़कर अपना जीवन आसान बनेगा और समय और धन की बचत होगी।
श्री आरएस अमर ने कहा कि बैंकिंग लोकपाल योजना के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि  योजना बैंक ग्राहक, बैंकिंग सेवाओं में पाई गई कमियों के संबंध में शिकायतों को दूर करने के लिए समाधान निकालने और कम खर्च पर जल्दी से समझाने के लिए अधिक से अधिक लोगों को जागरूक करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *