हार्पिक और झंडू बाम को मिलाकर बनाया जहर, मालकिन की आंखों में डालकर गहने चुरा ले गयी नौकरानी

 हैदराबाद पुलिस ने एक महिला को गिरफ्तार किया है जिसके उपर आरोप है कि वह जिस घर में काम करती थी उस घर की मालकिन को उसने हार्पिक और झंडू बाम का को मिलाकर एक जहर बनाकर पिलाया जिसकी वजह से वह अंधी हो गयी और इसके बाद महिला ने घर में लूटपाट की। हैदराबाद पुलिस ने 32 वर्षीय  पी भार्गवी जो लोगों के घर पर काम करती थी को बुधवार, 2 मार्च को गिरफ्तार किया।  उसे 73 वर्षीय एक महिला को हार्पिक और झंडू बाम के जहरीले संयोजन के साथ अंधा करने और फिर उसे लूटने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था।

हेमवती (73) सिकंदराबाद के नचाराम में एक अपार्टमेंट परिसर में अकेली रहती थी। लंदन में रहने वाले उनके बेटे शशिधर ने अगस्त 2021 में भार्गवी को लिव-इन हाउसकीपर नियुक्त किया था वह उनकी देखभाल करती थी। द न्यू इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट के अनुसार, भार्गवी अपनी सात साल की बेटी के साथ हेमवती के अपार्टमेंट में रहने चली गई। वह चोरी करने के मौके का इंतजार कर रही थी।

अक्टूबर में भार्गवी ने हेमवती को अपनी आँखें मलते हुए देखा। उसने हेमवती की आँखों में सुखदायक बूँदें डालने की पेशकश की। फिर उसने हार्पिक और झंडू बाम को पानी में मिलाकर 73 साल की महिला की आंखों में डाल दिया। कुछ दिनों बाद, जब हेमवती ने अपने बेटे को बताया कि उसे आंख में संक्रमण हो गया है, तो उसने उसे पास के एक निजी अस्पताल में रेफर कर दिया। हालांकि, जब उनकी आंखों की रोशनी खराब हुई तो उनकी बेटी उर्वशी उन्हें फिर से अस्पताल ले गईं, लेकिन कुछ पता नहीं चला।

73 वर्षीय महिला की आंखों की रोशनी पूरी तरह से चली जाने के बाद, शशिधर हैदराबाद गए और अपनी मां को एल.वी. प्रसाद नेत्र अस्पताल ले गए। जांच करने पर डॉक्टरों ने उन्हें बताया कि उनकी आंखों में जहरीले द्रव्य के कारण अंधापन हो गया है। इस बात की जानकारी के बाद परिजन महिला की केयरटेकर भार्गवी पर शक करने लगे। उन्होंने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई, जिसने उससे पूछताछ की। पूछताछ के दौरान, भार्गवी ने उसे अंधा करने और 40,000 रुपये नकद, दो सोने की चूड़ियाँ, एक सोने की चेन और कुछ अन्य गहने चोरी करने की बात कबूल की।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *