आईएमटी एक्सपो में निज़ामी बंधुओं ने दी प्रस्तुति

दिन भर उमड़ी एक्सपो में लोगों की भीड़, उद्योगपति गदगद
फरीदाबाद, 15 मार्च, : आईएमटी इंडस्ट्रियल एक्सपो में देर सायं प्रसिद्ध निज़ामी बंधुओं ने प्रस्तुति दी। इस मौके पर मुख्य अतिथि के रूप में जिलाध्यक्ष भाजपा गोपाल शर्मा व वरिष्ठ उद्योगपति एसएस मान व बिजली निगम के अधिकारी श्री मक्कड़ भी मौजूद रहे। वहीं विशिष्ट अतिथि के रूप में युवा भाजपा जिलाध्यक्ष पंकज सिंगला मौजूद रहे। इस मौके पर निज़ामी बंधुओं ने जहां देश भक्ति से ओत-प्रोत कव्वाली प्रस्तुत करते हुए पूरा माहौल देश भक्ति में रंग दिया वहीं दोस्ती, मोहब्बत पर भी जमकर समां बांधा। इस दौरान होली के मौके को देखते हुए उन्होंने फाग भी गाया। बता दें कि तीन दिवसीय इस एक्सपो में हर वर्ग के लगभग 250 उद्योग अपने उत्पाद प्रदर्शित कर रहे हैं। दिन-भर उद्योगों की स्टॉल्स पर लोगों की भीड़ लगी रही। स्टार्टअप की योजना बना रहे युवाओं की संख्या में भी एक्सपो में काफी देखी जा रही है। वहीं अपने उत्पाद को एक बेहतर शोकेस मिलने से उद्योगपति भी काफी गदगद नजर आ रहे हैं। इस मौके पर बतौर मुख्य अतिथि गोपाल शर्मा ने आईएमटी इंडस्ट्रीज एसो. की प्रशंसा करते हुए कहा कि यह एक बेहतरीन प्रयास किया गया है जिससे निश्चित रूप से उद्योगों को बढ़ावा मिलेगा। उन्होंने कहा कि आज के समय में कोरोना काल के बाद उद्योगों को इसी प्रकार के एक प्लेटफार्म की जरूरत थी, जिसे एसोसिएशन ने पूरा किया। उन्होंने कहा कि वे प्रयास करेंगे कि सरकारी स्तर पर भी औद्योगिक संगठनों के साथ मिलकर इस तरह के प्लेटफार्म उद्योगों को मुहैया कराए जाएं। उन्होंने कहा कि फरीदाबाद औद्योगिक नगरी है। उसके बावजूद भी यहां कई उद्योग एक-दूसरे से परिचित नहीं है। ऐसे में इस तरह के एक्सपो अपने औद्योगिक शहर को जानने में भी विशेष भूमिका निभाते हैं। गोपाल शर्मा ने आयोजकों को बधाई देते हुए निज़ामी बंधुओं की प्रस्तुति को भी सराहा और कहा कि यह हिंदुस्तान की खूबसूरती है कि यहां मुस्लिम कलाकार भी भजन गाते हैं क्योंकि कला किसी एक की विरासत नहीं है। वहीं इस मौके पर प्रधान प्रमोद राणा, चेयरमैन पीजेएस सरना, आईसी जैन, रश्मि सिंह, नितिन बरेजा, वीपी गोयल, अजय अबरोल, डीपी यादव, वीपी दलाल, मनोज आहुजा, राकेश कुमार, तेज चौधरी सहित एसोसिएशन की टीम ने आए हुए अतिथियों का आभार व्यक्त करते हुए उन्हें स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। वहीं इस मौके पर निज़ामी बंधुओं ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि कला किसी जाति या एक व्यक्ति की नहीं होती बल्कि कला सांस्कृतिक धरोहर होती है। उन्होंने कहा कि शास्त्रीय संगीत हमारी प्राचीन विरासत है तथा इसकी तुलना किसी से नहीं की जा सकती। उन्होंने उद्योगपतियों के बीच प्रस्तुति का मौका देने के लिए आईएमटी इंडस्ट्रीज एसो. का भी आभार व्यक्त किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *