महेंद्रगढ़ में जजपा ने उठाया अवैध खनन समेत कई जन समस्याओं का मुद्दा, प्रदर्शन के बाद सौंपा ज्ञापन

ग्लोबल हरियाणा न्यूज़ / महेंद्रगढ़ : महेंद्रगढ़ में भाजपा सरकार की जन विरोधी नीतियों के विरोध में बुधवार को जननायक जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं ने जोरदार विरोध प्रदर्शन किया व राज्यपाल और मुख्यमंत्री के नाम उपायुक्त को ज्ञापनसौंपा। जेजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष कंवर सिंह कलवाड़ी की अध्यक्षता में कार्यकर्ताओं ने शहर की चितवन वाटिका से लघु सचिवालय तक पैदल मार्च किया व लघु सचिवालय में पहुंचकर उपायुक्त जगदीश प्रसादशर्मा को ज्ञापन सौंपा।

प्रदर्शन से पूर्व कार्यकर्ताओं की एक बैठक को संबोधित करते हुए कंवर सिंह कलवाड़ी ने कहा कि हरियाणा की भाजपा सरकार शिक्षित युवाओं को डी वर्ग की नौकरी देकर उनका अपमान कर रही है। जबकि बड़ीनौकरियों में आज भी भ्रष्टाचार का बोलबाला है। कलवाड़ी ने हरियाणा के युवाओं के हितों की आवाज उठाते हुए मांग की कि हरियाणा में निजी क्षेत्र की नौकरियों में 75 प्रतिशत आरक्षण दिया जाए। उन्होंनेकहा कि जिला महेन्द्रगढ़ के साथ-साथ प्रदेश में भी कानून व्यवस्था बिलकुल चरमरा गई है। बदमाशों के हौसले इस कदर बुलंद हैं कि मुख्यमंत्री के गृह क्षेत्र में भी एक डॉक्टर को सरेआम गोलियों से मौत केघाट उतार दिया गया। हरियाणा प्रदेश आज पूरे देश में महिला सुरक्षा में 27वें नंबर पर है। किसानों की स्थिति दयनीय स्तर पर पहुंच गई है। सरकार एक ओर फसल बीमा जैसी योजनाएं लेकर किसानों कोलूटने का काम कर रही है वही डीजल व पेट्रोल के दाम किसानों की कमर तोडऩे का काम कर रहे हैं। उन्होंने स्वामी नाथन आयोग की रिपोर्ट को जल्द से जल्द लागू करने की मांग की है।

इस दौरान जेजेपी नेताओं ने जिले में हो रही अवैध खनन व अवैध क्रशर का मुद्दा भी उठाया। जजपा जिला प्रधान रमेश पालड़ी ने बताया कि जिला के नांगल चौधरी क्षेत्र में आज भी प्रशासन की निगरानी में दर्जनों अवैध क्रशर व दर्जनों की खानें चल रही हैं। इन खानों पर गैंग माफिया व खनन माफिया का कब्जा हो गया है तथा उक्त गैंग माफिया व खनन माफिया आदि को यहां के प्रभावी राजनेताओं का पूरा संरक्षण मिल रहा है। इसमें राजनेताओं की चांदी हो रही है। नांगल चौधरी डार्क जोन होने के बावजूद यहां क्रशरों व अन्य कार्यों में पानी का व्यापक दुरुपयोग हो रहा है। एनजीटी की लाख कोशिश के बाद प्रशासन सत्ता से जुड़े नेताओं के इशारों से ही एनओसी जारी कर देता है। यही कारण है कि यहां के लगभग दो दर्जन गांवों के हजारों आम लोग गंभीर व असाध्य बीमारियों से ग्रस्त हो गए हैं तथा सैकड़ों लोग बेमौत मर चुके हैं लेकिन इस पर प्रशासन का कोई ध्यान नहीं।

जेजेपी ने अपने ज्ञापन के माध्यम से प्रदेश में पढ़े लिखे बेरोजगार युवकों का अपमान, प्रदेश में कानून व्यवस्था चौपट हो गई है, महिला अपराधों में तेजी से बढ़ोतरी हुई है, प्रदेश के किसानों की दुर्दशा खराबहो रही है, प्रदेश में बिजली, पानी व सडक़ों का बुरा हाल हो गया है, बरसात के समय भी सीवरेज की पंगु व्यवस्था से लोग परेशान हैं, स्वास्थ्य सेवा चिकित्सकों के अभाव में बेहाल हो चुकी है, शिक्षा के क्षेत्रमें निजी स्कूलों को संरक्षण व पेट्रोल व डीजल के दामों में वृद्धि व प्रदेश में अवैध खनन व अवैध क्रशरों का बोलबाला कायम है।

इस मौके पर जिला प्रभारी तेजप्रकाश अधिवक्ता, युवा प्रधान रविन्द्र गागड़वास, कमलेश सैनी, श्रीमती मंजू चौधरी, अमर सिंह ब्रह्मचारी, सिलोचना ढिल्लो, अशोक सैनी, संंजीव तंवर, डी.एन. यादव, रोहतासबडग़ांव, अशोक सैनी, सुरेन्द्र पटीकरा, केशव वर्मा अटेली, राजकुमार मेहता, गजे सिंह चौपड़ा, संजीव गुप्ता, धर्मबीर प्रधान, जिला कार्यालय सचिव वीरेन्द्र घाटासेर, रोहतास रावत, कर्नल करण सिंह, सत्तुखटीक, नवीन राव आदि नेता शामिल थे।

वहीं 18 जुलाई को जननायक जनता पार्टी करनाल, भिवानी और पलवल जिले में भाजपा सरकार के खिलाफ रोष प्रदर्शन करेगी। इस दौरान करनाल में जेजेपी प्रदेशाध्यक्ष सरदार निशान सिंह, पलवल में  राष्ट्रीय प्रधान महासचिव डॉ. केसी बांगड़ और भिवानी में जेजेपी नेता दिग्विजय चौटाला के नेतृत्व में जिला स्तरीय पार्टी पदाधिकारी व कार्यकर्ता प्रदर्शन के बाद ज्ञापन सौंपेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *