एजुकेशन लीडर्स समिट-2 में ग्लोबल एजुकेशन लीडर्स ने लिया हिस्सा

ग्लोबल हरियाणा न्यूज़ / फरीदाबाद / हरजिन्दर शर्मा / 14 अगस्त 2021 :  मानव रचना शैक्षणिक संस्थान 25वें साल में प्रवेश कर रहा है। इसी उपलक्ष्य में आयोजित एजुकेशन लीडर्स समिट चैप्टर टू के दूसरे दिन ग्लोबल एजुकेशन लीडर्स ने ऑनलाइन कार्यक्रम में हिस्सा लिया। इस दौरान यूजीसी के चेयरमैन डीपी सिंह ने अपने संदेश में कहा, हमें अपनी फ्यूचर जेनेरेशन को ग्लोबल सिटिजन बनाना है, सभी हायर एजुकेशन इंस्टीट्यूशंस को इसके लिए सामना आना चाहिए। उन्होंने कहा हमें छात्रों को एक्सपीरिएंशियल लर्निंग देनी होगी। डीपी सिंह ने कहा, इस तरह के कार्यक्रम से हर व्यक्ति को कुछ न कुछ सीखने को मिलता है और यह कार्यक्रम काफी मददगार साबित होते हैं।

कार्यक्रम के मुख्य वक्ता प्रोफेसर अविनाश पांडे ने इन्वेंटिव डिजिटल वेव पर चर्चा की। उन्होंने कहा कोविड से पहले कोई भी व्यक्ति ऑनलाइन पढ़ाई के बारे में नहीं सोचता था लेकिन आज के समय में हम सब ऑनलाइन कर रहे हैं, फिर चाहे वह शिक्षा हो, डिजिटल पेमेंट्स हों। उन्होंने कहा डिस्टेंस लर्निंग से छात्रों ने बहुत कुछ सीखा है। प्रोफेसर पांडे ने इस दौरान नैशनल सैंपल सर्वे के उस सर्वे का जिक्र किया जिसमें बताया गया था कोविद के कारण 320 मिलियन छात्रों पर असर पड़ा है। उन्होंने नेशनल सैंपल सर्वे की 2017-18 की रिपोर्ट का जिक्र करते हुए कहा कि, 23.8 प्रतिशत भारतीय घरों में इंटरनेट कनेक्शन हैं, जिनमें से 14.9 प्रतिशत इंटरनेट रूरल एरिया में जबकि 42 पर्सेंट अर्बन एरिया में है। उन्होंने कहा कि, हमें हमारे शिक्षकों को ट्रेन करना होगा। हमें लर्निंग से स्किल तक का प्रोसेस फॉलो करना होगा।

कार्यक्रम में दो पैनल डिस्कशन रखे गए जिनमें पहले पैनेल में Globalizing Indian Skills- Indigenous approach to disparate Skill Standards and Capacity Building और दूसरे पैनल में Building Resilient Education Systems for Inclusive and Sustainable Development पर चर्चा हुई।

ऑनलाइन कार्यक्रम में मानव रचना यूनिवर्सिटी के वीसी डॉ. आईके भट्ट, आल्टएयर के प्रजीप कुमार, श्री श्री यूनिवर्सिटी की अध्यक्ष डॉ. रजिता कुल्कर्णी, शूलिनी यूनिवर्सिटी के वीसी प्रोफेसर अतुल खोसला, स्किलएड इंडिया के सीईओ राजीव माथुर, आईएमटी गाजियाबाद से पीके बिसवास, एमडीयू के इनोवेशन एंड इन्क्यूबेशन सेंटर के डायरेक्टर डॉ. मुनीष गर्ग, आईआरएम इंडिया के हर्ष शाह, द यूनिवर्सिटी ऑफ क्वींस्लैंड ऑस्ट्रेलिया के प्रिंसिपल एडवाइजर सागर बहादुर, मारवाड़ी यूनिवर्सी के डॉ. संदीप संचेती, मानव रचना प्लानिंग एंड को-ऑर्डिनेशन डायरेक्टर कर्नल गिरीश शर्मा और डायरेक्टर एडमिशन गौरी भसीन समेत कई गणमान्य लोग और छात्र मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *