आखिरी वक्त पर डेरा सच्चा सौदा ने पंजाब में कांग्रेस का खेल बिगाड़ा

चंडीगढ। मतदान के कुछ घंटे पहले आखिर डेरा सच्चा सौदा ने भी अपना दांव चल दिया । डेरा ने अपने समर्थकों को पंजाब में भाजपा अकाली दल व भगवंत मान यानी आम आदमी पार्टी के पक्ष में मतदान करने की अपील की है। जिससे कांग्रेस का खेल बिगड़ने का अंदेशा पैदा हो गया है। 

पंजाब में आज जहां मतदान हो रहा है। वहीं डेरा के इस फरमान के बाद कांग्रेस नेता भी सकते में हैं। पहले उम्मीद जताई जा रही थी कि शायद डेरा किसी भी दल को समर्थन न दे। उस हालात में कांग्रेस को अपने दलित वोट बैंक में कोई सेंध लगने का खतरा नहीं था। लेकिन इस ताजा घटनाक्रम ने कांग्रेस को जोर का झटका दिया है। 

बताया जा रहा है कि डेरा प्रमुख की तरफ से अपने फॉलोअर्स को वोट करने का फरमान कोड वर्ड में भेजा गया है। हालांकि अकाली दल, भाजपा और भगवंत मान के समर्थन की बात को पब्लिक डोमेन में नहीं लाया जा रहा है। इसकी भी एक वजह है। सामना सीट से निर्दलीय प्रत्याशी परमजीत सिंह कोहली ने पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट में एक याचिका दायर कर आरोप लगाया है कि डेरा सच्चा सौदा का वोट हासिल करने के लिए भाजपा सरकार ने डेरा प्रमुख राम रहीम को फरलो दिया है। हाईकोर्ट ने हरियाणा सरकार को सोमवार को जवाब दाखिल करने का नोटिस भी भेजा है।   

चमकौर साहिब में पत्रकारों को संबोधित करते हुये पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने माना कि बीती रात डेरा सच्चा सौदा ने राजनीतिक खेल खेल दिया है। डेरा सच्चा सौदा ने  जिस तरीके से अकाली दल व भंगवत मान को समर्थन दिया है। उसके पीछे भाजपा हैं । उन्होंने कहा कि  भाजपा ने डेरा मुखी राम रहीम को कब्जे में रखा है। उन्होंने हमें समर्थन नहीं दिया, हमारे पास जानकारी आ रही है कि डेरा का यह संदेश है। उन्होंने दावा किया इससे कोई फर्क नहीं पडेगा।  पंजाब में कांग्रेस की लहर है। उन्होंने पंजाब के लोगों से अपील की कि वह डेरा की किसी बात को न मानें। लेकिन सचाई के साथ खड़े हों। और कांग्रेस को वोट दें।  कोतवाली साहिब गुरुद्वारा में दर्शनों को आये चन्नी ने कहा कि उनके चुनाव क्षेत्र चमकौर साहिब में कांग्रेस की लहर है। यहां दूसरे दलों के बूथ तक नहीं लगे है। उन्होंने कहा कि हम बहुत बउे मार्जन से जीतेंगे, दो तिहाई बहुमत से कांग्रेस सरकार बनायेगी। 

पंजाब में डेरा समर्थक 40 लाख वोटर्स हैं जो राज्य की कुल 117 सीटों में से 70 सीटों पर सीधे असर डालते हैं। यानी ये वोट जहां पड़े सरकार लगभग उसकी बननी तय है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *