सोहना (अशोक गर्ग ): जीडी गोयनका विश्वविद्यालय, सोहना रोड,

गुडगाँव, में श्री महामंडलेश्वर गीता मनीषी स्वामी ज्ञानानंद जी महाराज द्वारा धर्मग्रंथ गीता का विद्यार्थियों एवं मनुष्य जीवन पर प्रभाव/महत्व हेतु प्रवचन का आयोजन किया गया | स्वामी ज्ञानानंद जी महराज एवं  मार्कण्डेय आहूजा जी (उप-कुलपति), गुरुग्राम विश्वविद्यालय , गुरुग्राम का स्वागत ,डॉ. रोहित दत्त (एसोसिएट डीन, SoMAS , जी डी गोयनका विश्वविद्यालय ),नीता बाली (प्राध्यापिका, जी डी गोयनका स्कूल) एवं श्री भानी राम मंगला (चेयरमैन, हरयाणा गौ सेवा आयोग )  ने  माल्यार्पण द्वारा किया| श्री महाराज ने अपने प्रवचन द्वारा विद्यार्थियों एवं शिक्षकगणों के जीवन पर गीता धर्मशास्त्र एवं जीवनशास्त्र के महत्व के बारे में उद्भोधित किया| इसके साथ ही उन्होंने मनुष्य-जीवन में एकाग्रता और आत्मविश्वास के महत्व पर प्रकाश डाला एवं अपने लक्ष्य की प्राप्ति के लिए निरंतर प्रयत्नशील रहने पर जोर दिया |प्रवचन के उपरान्त उन्होंने उपस्थित श्रोतागणों के प्रश्नों का समुचित उत्तर देकर शंकाओं को दूर किया| प्रवचन के समापन  पर डॉ रोहित दत्त ने श्री स्वामी ज्ञानानंद जी महराज एवं  मार्कण्डेय आहूजा जी को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *