किसानों के साथ फिर सूखी नहर पहुंचे आफताब अहमद, प्रदेश सरकार को दी चेतावनी

ग्लोबल हरियाणा न्यूज़ / नूह / हरजिन्दर शर्मा / 18 अक्टूबर 2020 : कांग्रेस विधायक दल उपनेता व नूह विधायक चौधरी आफताब अहमद रविवार को एक बार फिर किसानों साथ आंकेडा गांव में नूह ड्रेन पहुंचे जहां उन्होंने प्रदेश सरकार को अंतिम चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर पानी नहीं आया तो वो मेवात के किसानों के साथ आंदोलन करेंगे, जिसके लिए सिर्फ और सिर्फ प्रदेश सरकार जिम्मेदार होगी। किसान अब परेशान हो गया है वो सरकार के विरोध में किसी भी सीमा तक जा सकता है क्योंकि उनकी फसल बोने का समय आया हुआ है। हरियाणा सरकार राजस्थान तो पानी दे रही है लेकिन मेवात के किसानों से दुश्मनी निकाल रही है। किसानों ने कहा कि उन्हें मालूम है कि उनके विधायक आफताब अहमद पिछले रविवार को भी उनके बीच आए थे, और सिंचाई के पानी के लिए मांग की थी। उसके बाद आफताब अहमद चंडीगढ़ में मुख्यमंत्री से मिले, फिर अतरिक्त मुख्या सचिव व एसई से मिल कर पानी की मांग की थी और कोटला झील परियोजना को पूरा करने की मांग की थी लेकिन बीजेपी जजपा सरकार किसानों से और मेवात से दुश्मनी निकाल रही है। किसानों ने कहा कि अब वो हताश हो चुके हैं, अब आंदोलन पर रणनीति तैयार हो रही है, सड़कें जाम करने का समय आ गया है। नूह विधायक आफताब अहमद ने कहा कि मौजूदा बीजेपी जजपा सरकार मेवात व किसान विरोधी है। अन्तिम अल्टीमेटम हम सरकार को दे रहे हैं दो दिन में पानी नहीं आया तो किसान सड़कों पर आकर बड़ा कदम ले सकता है और हम उनके साथ खड़े हैं। सीएलपी उप नेता चौधरी आफताब अहमद ने कहा कि बीजेपी सरकार एक तरफ तो दावा करती है कि तीन नए कृषि कानून किसान के समर्थन में हैं जबकि सच्चाई ये है कि बीजेपी जजपा सरकार किसानों को पानी तक नहीं दे रही है। प्रदेश व देश का किसान सड़क पर उतरे हुए हैं लेकिन सरकार सो रही है, लेकिन अब वक़्त है इस सरकार को सबक सिखाने का। पीसीसी सदस्य महताब अहमद ने कहा कि बीजेपी सरकार मेवात के किसानों को बर्बाद करने की साज़िश कर रही है जिसमें जनता द्वारा नकारे हुए नेता भी शामिल हैं। लेकिन किसान और हम मिलकर गंदी राजनीति करने वालों को सबक सिखाने का काम करेंगे, पानी लेकर रहेंगे चाहे कितना बड़ा आंदोलन ही किसानों व हमें करना पड़े।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *