जातिगत आरक्षण को समाप्त कर आर्थिक आधार पर लागू किये

जाने एवं सिर्फ गरीब और जरूरतमंद व्यक्ति को ही आरक्षण दिए जाने की मांग पिछले 15  वर्षों से लगातार उठाने वाले दीपक गौड़ ने आज बल्लबगढ़ विधान सभा क्षेत्र से अपना नामांकन किया है ज्ञात होना चाहिए कि जाति के आधार पर सरकार द्वारा बनाये गए कानूनों एवं सरकारी योजनाओ में जाति आधारित भेद-भाव को समाप्त कर एक देश एक कानून और योग्यता को प्राथमिकता देकर देश के चहुमुंखी विकास की मांग को लेकर सैकड़ो बार दिल्ली जंतरमंतर, राजस्थान, मध्यप्रदेश, बिहार, उत्तर प्रदेश के कई शहरों में आंदोलन कर प्रदर्शन करने के वाले दीपक गौड़ को वर्ष 2018 में 3 महीने तिहाड़ जेल में गुज़ारने पड़े उनपर भारत का संविधान जलाने, जनभावनाएं भड़काने, सरकारी संपत्ति को नुकशान पहुँचाने  एवं अनुसूचित जाति जनजाति निवारण अधिनियम के तहत पटियाला हाउस कोर्ट में मुकदद्मा दर्ज किया गया परन्तु दीपक गौड़ इससे विचलित नहीं हुए बल्कि अपना संघर्ष जारी रखे हैं दीपक गौड़ ने बताया वे  चुनाव प्रचार के लिए कोई कार्यालय नहीं खोलेंगे और न कोई लंगर चलाएंगे न ही किसी को चाय पिलायेंगे सिर्फ देश और समाज के उज्जवल भविष्य के लिए जनजागृति करना उनका उद्देश्य है और समाज स्वयं आगे आकर उनका सहयोग करेगा ऐसा उनको विश्वास हैDeepak Gaur 9811117634

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *