फरीदाबाद तिगावं का युवक हुआ हैनीट्रप का शिकार लुधियाना से महिला आरोपी सहित एक युवक गिरफ्तार

ग्लोबल हरियाणा न्यूज़ / फरीदाबाद / हरजिन्दर शर्मा /13 जुलाई , 2021 : सोशल मीडिया का उपयोग किसी के फायदे और नुकसान के लिए उसके विवेक का प्रतिबिंब होता है। थोड़ी-सी विवेकहीनता लोगों के लिए परेशानी का बड़ा कारण हो सकती है। घटना तिगाँव थानाक्षेत्र की है जिसमें, फरीदाबाद पुलिस की सफलता के साथ ही पीड़ित के परिजनों  के चेहरे पर खुशी की झलक दिखाई दी। लगभग एक माह पूर्व वेल्डिंग की दुकान चलाने वाले 22 वर्षीय एक युवक को लुधियाना से एक अनजान युवती का मिस्ड कॉल आया था। लड़के ने जब कॉल वापस की तो वह उस युवती के बातचीत से प्रभावित हो गया और क्रमशः मोबाईल से सोशल मीडिया होते हुए सिलसिला चल पड़ा। सोशल मीडिया की राह चलते दोनों एक दूसरे से तथाकथित रूप में गहरे घुल-मिल गये। किन्तु, लव मे लोगं डिस्टेंसिंग दोनों को रास नहीं आ रही थी। इसलिए युवती ने लड़के को मिलने के लिए लुधियाना बुला लिया। 10 जुलाई को लड़का अपने घर से बहाना बनाकर लुधियाना पहुँचा। युवती उस युवक को अपने घर ले आई कमरे में बैठकर थोड़ी देर बातचीत करने के बाद योजना अनुसार उसके चचेरे भाई और एक अन्य आरोपी राज कुमार ने उन दोनों को कमरे में बंद कर दिया। लड़की से बलात्कार के झूठे केस में फंसाने की धमकी दी। लड़की के सहआरोपियों ने लड़के के परिजनों को फोन किया और लड़के को बंधक बना लेने की बात बताते हुए पाँच लाख रूपये फिरौती माँग ली। फरीदाबाद में लड़के के परेशान परिजन तुरंत स्थानीय थाना पहुँचे। परिजनों ने तिगाँव थानाध्यक्ष को लड़के के बंधक बनाने व फिरौती माँगने की पूरी जानकारी देते हुए लड़के के कुशल बरामदगी करने के साथ अज्ञात आरोपियों के विरूद्ध कार्रवाई करने की माँग की। लिखित शिकायत मिलने पर मामला दर्ज करने के पश्चात् थानाध्यक्ष ने पुलिस कमिश्नर श्री ओपी सिंह के निर्देश पर कार्य करते हुए व वैज्ञानिक सोर्स का इस्तेमाल कर त्वरित संज्ञान लेकर बंधक युवक की बरामदगी के साथ आरोपियों की गिरफ्तारी सुनिश्चित कर मामले का उद्भेदन करने के लिए स० उप-निरीक्षक राकेश के नेतृत्व में हवलदार सुरेश ,संदीप, सिपाही सुरेंद्र एवं महिला सिपाही आकांक्षा सहित पाँच सदस्यों की टीम गठित की। गठित टीम तुरंत लुधियाना के लिए निकल पड़ी। लुधियाना पहुँचते ही पुलिस टीम ने तकनीकी सहयोग से लड़के व लड़की के साथ-साथ सभी आरोपियों को लुधियाना में ईश्वर कॉलोनी, फोगल से ढूँढ निकाला। पीड़ित के साथ सभी आरोपियों को पुलिस अभिरक्षा में फरीदाबाद लाया गया। युवती के साथ सहयोगी दोनों आरोपी का नाम राजकुमार और अजय है। तीनों आरोपियों की आयु 20 से 23 के बीच है। तिगाँव थाना में पूछताछ के क्रम में पुलिस के समक्ष आरोपियों ने अपराध स्वीकार किया तथा मामले के संबंध में आरोपी अजय ने बताया कि वह युवती का चचेरा भाई है तथा जब वह घर आया तो युवक बहन के साथ कमरे मे था। आरोपी अजय ने योजनाअनुसार  आरोपी राजकुमार को बुलाकर दोनों ने फरीदाबाद से आये उस युवक को कमरे में बंद कर दिया, और झूठा केस में फंसाने की धमकी दी। पीड़ित युवक कमरे में रोने-गिड़गिड़ाने लगा। तब दोनों ने उसके परिजनों को फोन कर पीड़ित युवक को सुरक्षित वापस भेजने के लिए पाँच लाख रूपये की फिरौती माँग ली। दोनों आरोपी दैनिक मजदूरी का काम करते हैं। दोनों आरोपियों को अदालत में पेश कर 2 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है खबर लिखे जाने तक विधि-सम्मत तरीके से पुलिस द्वारा पूछताछ जारी है। दोनों आरोपियों के कब्जे से युवक एटीएम कार्ड, आधार कार्ड, पैन कार्ड युवक का मोबाइल फोन बरामद किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *