कोरोना पीड़ितों की मदद के लिए हरियाणा पुलिस के 10 वाहन मददगार साबित होंगे : यशपाल

ग्लोबल हरियाणा न्यूज़ / फरीदाबाद / हरजिन्दर शर्मा / 7 मई , 2021 : उपायुक्त यशपाल ने कहा कि आज कोरोना आपदा के इस दौर में सभी सरकारी विभाग आपस में बेहतरीन तालमेल के साथ काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि इसी मदद के तहत हरियाणा पुलिस ने आज अपनी इनोवा गाड़ियां स्वास्थ्य विभाग को कोविड-19 मरीजों की तुरंत मदद के लिए उपलब्ध करवाई हैं। उन्होंने कहा कि यह गाड़ियां ओम आइसोलेशन अथवा कोविड-19 सेंटरों में इलाज करवा रहे मरीजों को तुरंत आपात स्थिति में बड़े अस्पताल में पहुंचाने में मदद करेंगी। उपायुक्त यशपाल शुक्रवार सायं हरियाणा पुलिस विभाग द्वारा दी गई  10 इनोवा गाड़ियों को सीएमओ को सौंपने के बाद पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। इससे पहले यह गाड़ियां डीसीपी एनआईटी अंशु सिंगल ने यह गाड़ियां उपायुक्त यशपाल को सौंपी।                         

उपायुक्त यशपाल ने बताया कि इन सभी इनोवा गाड़ियों के अंदर से सोशल डिस्टेंस के मद्देनजर पार्टीशन पुलिस विभाग द्वारा किया गया है। ये इनोवा गाड़ियां कोविड-19 संक्रमित लोगों को निशुल्क अस्पतालों में छोड़ेंगी। इसके लिए लोगों को पहले टोल फ्री नंबर 108 से इजाजत लेनी होगी कि संक्रमित व्यक्ति को किस अस्पताल में लेकर जाना है। उन्होंने कहा कि प्रशासन कोविड-19 के संक्रमण को खत्म करने के लिए पूरी तरह से जागरूक हैं। उन्होंने बताया कि हमारे पास बेड एवं अस्पतालों की कोई कमी नहीं है। उन्होंने कहा प्रत्येक दिन आने वाले मरीजों की कांटेक्ट ट्रेसिंग पर हम अपना पूरा ध्यान फोकस कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जिला को 8 हिस्सों में विभाजित कर वहां इंसीडेंट कमांडर नियुक्त किए गए हैं। इन इंसिडेंट कमांडरों के नीचे बड़ी संख्या में कर्मचारियों एवं अधिकारियों की नियुक्ति की गई है। यह टीमें लगातार कोविड-19 संक्रमित मरीजों के संपर्क में हैं और उन्हें जिस भी मदद की आवश्यकता होती है उन्हें तुरंत यह मदद उपलब्ध करवाई जाती है। उपायुक्त ने जिला के सभी लोगों से अपील करते हुए कहा कि आपदा के इस दौर में घबराए नहीं बल्कि एहतियात रखें। उन्होंने कहा कि कोरोना नियमों का पालन करें और अपने घरों में ही रहे। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन प्रत्येक स्थिति में आम लोगों के साथ खड़ा है और 24 घंटे मदद के लिए तत्पर हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *